Monday 26 August 2013

Comment in Dwarka Parichay / Ashok Lav

Sunday, August 25, 2013

Great Compliments from Great Scholar


श्री एस.एस.डोगरा वरिष्ठ पत्रकार हैं. ' द्वारका परिचय ' के संपादक हैं. अत्यंत सक्रिय हैं. साहित्य से गहन लगाव है. उनसे कुछ माह पूर्व साहित्यिक आयोजनों में भेंट हुई थी. द्वारका ( नई दिल्ली ) की कोई भी गतिविधि ऐसी नहीं है जिन्हें वे अपने समाचार-पत्र में और ब्लॉग में कवर नहीं करते. यह उनका समर्पित व्यावसायिक पक्ष है.

उनका दूसरा पक्ष है, जिसने बेहद प्रभावित किया वह है उनका विनम्र स्वभाव और संस्कारवान होना. बड़ों को सम्मान देना , साहित्यकारों के प्रति आदर भाव , मानवीय मूल्यों के प्रति सजगता और अपनत्व-- इन सबका परिचय उनसे हुई मुलाकातों में मिल चुका था. परसों शाम अचानक फोन आया कि अभी-अभी मिलने आना चाहते हैं. ...और लगभग आधे घंटे के पश्चात वे आए. उनके साथ श्री संजय मिश्र आए थे. वे भागलपुर के रहने वाले थे. उनके साथ भागलपुर की चर्चाएँ हुईं. वहाँ के अपने विद्यार्थी जीवन के विषय में उन्हें बताया. श्री एस.एस.डोगरा कर्मठ पत्रकार और समाज-सेवी हैं. उन्हें अपनी पुस्तकें भेंट कीं. उसी समय का यह फोटोग्राफ !
- डॉ अशोक लव

No comments: