Wednesday 5 November 2008

नई मिली पुस्तक - तन मन वतन के नाम / *अशोक लव

19 अक्टूबर 2008 को फरीदाबाद के स्थापना - दिवस पर "सार्थक प्रयास " द्वारा आयोजित कार्यक्रम में अजय अज्ञात ने कविता पाठ किया था तो लगा था कि इस कवि में विशिष्टता है। पहली भेंट थी। कार्यक्रम के पश्चात बातचीत भी हुई। श्री एन एल गोसाईं ने कार्यक्रम के फोटोग्राफ्स भेजे और साथ में अजय "अज्ञात "का कविता -संग्रह भी भेजा। इसमें 70 गीत संग्रहित हैं। आचार्य बलदेव राज 'शांत' , एन एल गोसाईं, नरेन्द्र 'विवेक' के कविताओं पर लेख हैं। जैसा नाम से ही पता चलता है इसमें देश-प्रेम के गीत अधिक हैं। अन्य भावों के गीत भी
हैं।

* अजय अज्ञात , 37 / Sector -31 , Faridabad (Haryana)

No comments: