Tuesday 4 November 2008

सुदर्शन रत्नाकर का कहानी- संग्रह- " नहीं,यह नहीं होगा "/ * अशोक लव

१९ अक्टूबर को फरीदाबाद शहर का स्थापना-दिवस था । 'सार्थक प्रयास ' संस्था की ओर से आयोजित कार्यक्रम में मुख्य - अतिथि के रूप में भाग लिया था। कवि- गोष्ठी भी आयोजित हुई थी।
श्रीमती सुदर्शन रत्नाकर ने अपना कहानी-संग्रह ' नहीं, यह नहीं होगा ' भेंट किया। पूनो, प्रभात किरण, झूठे बंधन,नव निर्माण, अनंत साधना, दर्द के घेरे,दादा की सिम्मी, शेष दो पत्र, गहराते साए, नया सूट, आदर्शवादिता, अन्तर,नहीं यह नहीं होगा और विकृत आकृतियाँ --कहानियाँ इसमें संकलित हैं। भूमिका मदन शर्मा 'राकेश'(३१७२,/४६ सी , चंडीगढ़ ) ने लिखी है।
श्रीमती सुदर्शन के अनुसार "इस कहानी - संग्रह में मेरे साहित्यिक जीवन के शैशव कल की कहानियाँ हैं। ....अधिकतर कहानियाँ नारी प्रधान हैं जिनमें नारी मन की पीड़ा है.,त्याग है। "
सभी कहानियाँ प्रभावित करती हैं।
*श्रीमती सुदर्शन रत्नाकर , ई -२९,नेहरू ग्राउंड,फरीदाबाद- 421001

No comments: